कलेक्टरछत्तीसगढ़जिलेवार ख़बरेंदुर्गदुर्ग ग्रामीण

पानी नहीं तो VOTE नहीं: दुर्ग के नगपुरा के ग्रामवासियों ने किया लोकसभा चुनाव का बहिष्कार का एलान! पर क्यों,पढ़े क्या है पूरा मामला

पानी की समस्या से परेशान ग्रामीणों ने कलेक्टोरेट और पीएचई कार्यालय का घेराव किया ।

दुर्ग – नगपुरा में नलों में पेयजल सप्लाई के लिए पाइपलाइन बिछाने का काम फिर बंद कर दिया गया जल्दी आजा अब भी टंकी में पानी नहीं भर पा रहा है इससे ग्रामीणों को गंभीर पेयजल संकट का सामना करना पड़ रहा है इससे नाराज ग्रामीणों ने अब लोकसभा चुनाव के बहिष्कार का ऐलान कर दिया है ग्रामीणों ने इससे पहले 10 अप्रैल को नगपुरा बस स्टैंड पर चक्का जाम का ऐलान भी किया है.

ग्राम नगपुरा के एडीबी प्रोजेक्ट के तहत लोक निर्माण विभाग द्वारा ठेलका डीह से चिकली तक सड़क निर्माण कार्य किया जा रहा है. ग्रामीणों ने बताया कि सड़क चौड़ीकरण और नाली निर्माण की जद में पेयजल सप्लाई पाइपलाइन होने के कारण एडीपी द्वारा नई पाइपलाइन बिछाने के लिए ढाई साल पहले 40 लाख से ज्यादा जमा कर दिया गया है. इसके बाद भी पीएचई विभाग द्वारा पाइपलाइन बिछाने पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है. पिछले दिनों ग्रामीणों के आंदोलन के बाद पाइपलाइन का काम शुरू किया गया था लेकिन अब इसे भी अधूरा छोड़ दिया गया है. इससे 30 दिन बाद भी टंकी में पानी पहुंचाना शुरू नहीं हुआ है इससे लोगों को गंभीर पेयजल संकट का सामना करना पड़ रहा है.

कलेक्टर एसपी को सौंपा पत्र – 

पेयजल संकट से परेशान नगपुरा ग्रामीण ने पूर्व पंच बलराम कौशिक की अगुवाई में मोर्चा लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचे और यहां अफसर को परेशानी बताई.

ग्रामीणों ने अफसर को पत्र सौंप कर व्यवस्था में सुधार नहीं होने पर लोकसभा चुनाव के बहिष्कार की सूचना भी दी इसके साथ ही 10 अप्रैल को नगपुरा बस स्टैंड में चक्का जाम की चेतावनी भी दी.

एक टैंकर के भरोसे नगपुरावासी –

पिछले कई दिनों से गांव के लोगों की प्यास पंचायत के एकमात्र पानी के टैंकर के भरोसे पूछ रही है फिर हर इसे हर मोहल्ले में पानी पहुंचाया जा रहा है ग्रामीणों के मुताबिक टैंकर पहुंचते ही लोगों में पानी के लिए भगदड़ की स्थिति बन जाती है पाइपलाइन का कार्य पूरा हो जाने से लोगों को जल्द इससे मुक्ति मिल जाएगी इसके बाद भी अफसर का ध्यान इस होर जाने का नाम नहीं ले रहा है

चक्का जाम के बाद शुरू हुआ था काम – 

सड़क और पेयजल संकट को लेकर नगपुरा के ग्रामीण जनवरी से आंदोलन कर रहे हैं महीने भर पहले नागपुर बस स्टैंड चौक पर चक्का जाम भी किया गया था इसके बाद पेयजल सप्लाई के लिए पाइपलाइन बिछाने का काम शुरू किया गया था ग्रामीणों के मुताबिक के अफसर ने यह काम बंद कर दिया है अब.

The Samachaar

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button