खास खबरछत्तीसगढ़जिलेवार ख़बरेंदुर्गदुर्ग-भिलाई विशेषबीजेपी

IIT भिलाई को PM मोदी ने जम्मू से बटन दबाकर देश को किया समर्पित, कैंपस में मौजूद रहे सीएम साय संघ दुर्ग ग्रामीण विधायक ललित चंद्राकर!पढ़े ख़बर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने मंगलवार, 20 फरवरी को आईआईटी भिलाई (IIT Bhilai New Campus) के कुटेलाभाठा (Kutelabhata) में बनाए गए स्थायी परिसर का वर्चुअल माध्यम से शुभारंभ जम्मू (Jammu) के मौलाना आजाद स्टेडियम (Maulana Azad Stadium) में एक सार्वजनिक समारोह के बीच बटन दबाकर देश को समर्पित किया. वहीं इस मौके पर मुख्यमंत्री विष्णु देव साय (Vishnu Deo Sai), केंद्रीय मंत्री शिक्षा, कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय धर्मेंद्र प्रधान, सांसद विजय बघेल (Vijay Baghel) आईआईटी कैंपस में मौजूद रहे.

आईआईटी कैंपस के नालंदा व्याख्यान कक्ष में आयोजित कार्यक्रम में आईआईटी के अधिशासी मंडल के अध्यक्ष के. वेंकटरमण और निदेशक आईआईटी प्रोफेसर राजीव प्रकाश की भी मौजूदगी रही. साथ ही पूरा स्टाफ और यहां अध्ययनरत विद्यार्थी भी पीएम का अभिभाषण सुनने और वर्चुअल शुभारंभ का साक्षी बनने के लिए उपस्थित रहे.

अस्थायी कैंपस से हुई थी शुरुआत

बता दें कि आईआईटी भिलाई की घोषणा के बाद अगस्त 2016 में इसकी शुरुआत अस्थाई रूप से रायपुर के जीईसी कॉलेज में शुरू हुई थी. इसके बाद स्थायी कैंपस के लिए कुटेलाभाठा की इस जमीन का चयन किया गया. आईआईटी के भवन निर्माण के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 14 जून, 2018 को आधारशिला रखी थी.

 

ये हैं आईआईटी भिलाई की खासियत

आईआईटी परिसर करीब 400 एकड़ में बना हुआ है. आधारशिला रखे जाने के बाद निर्माण कार्य 8 जुलाई, 2020 को शुरू हुआ था. वहीं इस आईआईटी के भवन निर्माण के लिए केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की ओर से 1,090 करोड़ 18 लाख रुपये स्वीकृत किए गए थे. बिल्डिंग में लेक्चर हॉल, सेमिनार रूम, क्लास रूम आदि बनाए गए हैं. खास बात ये है कि आईआईटी में निर्मित भवनों के नाम छत्तीसगढ़ के प्रमुख नदियों और पर्वतों के नाम पर रखे गए हैं.

इस मौके पर दुर्ग ग्रामीण विधायक ललित ने कहा की आज हमारे देश के यशश्वी प्रधानमंत्री श्री Narendra Modi जी ने जम्मू से आईआईटी भिलाई के स्थायी परिसर का वर्चुअल माध्यम से शुभारंभ किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री Vishnu Deo Sai जी एवं केंद्रीय मंत्री शिक्षा, कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय श्री Dharmendra Pradhan जी, सांसद श्री Vijay Baghel जी, विधायक श्री डोमन लाल कोर्सेवाड़ा जी, अभिशासी मंडल के अध्यक्ष श्री के. वेंकटरमण जी तथा निदेशक आईआईटी प्रोफेसर श्री राजीव प्रकाश जी भी मौजूद रहें।

आईआईटी के निर्माण की आधारशिला प्रधानमंत्री मोदी जी ने 14 जून 2018 को रखी थी। इसके निर्माण का कार्य आठ जुलाई 2020 को आरंभ हुआ। आईआईटी भिलाई का परिसर 400 एकड़ में फैला है। आरंभिक रूप से इसके निर्माण के लिए केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय द्वारा 1090 करोड़ 18 लाख रुपए स्वीकृत किए गए। बिल्डिंग में लेक्चर हाल, सेमिनार रूम, क्लास रूम आदि बनाये गये हैं। भिलाई आईआईटी में निर्मित भवनों के नाम छत्तीसगढ़ की प्रमुख नदियों और पर्वतों के नाम पर रखे गये हैं।

The Samachaar

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button