खास खबरछत्तीसगढ़जिलेवार ख़बरेंदुर्गदुर्ग-भिलाई विशेष

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टीम के लिए दुर्ग के राजेंद्र देशमुख का हुआ चयन, दिव्यांग कैटेगरी से अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट टीम का हिस्सा बनने वाले छत्तीसगढ़ के पहले खिलाड़ी।

– अविभाजित मध्यप्रदेश में भिलाई से राजेश चौहान का चयन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टीम में हुआ था. वो छत्तीसगढ़ से अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले पहले खिलाड़ी थे. लेकिन उनकी कैटेगरी दिव्यांग नहीं थी.अब राजेंद्र दिव्यांग कैटेगरी से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टीम का हिस्सा बनने वाले छत्तीसगढ़ राज्य के पहले खिलाड़ी बन गए हैं.

 

दुर्ग – छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले के एक छोटे से गांव कोलिहापुरी के रहने वाले क्रिकेटर राजेंद्र देशमुख भारत की अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टीम में चयनित हुए हैं. राजेन्द्र International Cricket (दिव्यांग) मैच में भाग लेने के लिए दुर्ग से आगरा के लिए रवाना हो चुके हैं. राजेन्द्र दिव्यांग कैटेगरी से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टीम का हिस्सा बनने वाले छत्तीसगढ़ के पहले खिलाड़ी हैं.

 7  सालों से खेल रहे हैं क्रिकेट 

दुर्ग जिले के कोलिहापुरी के 22 साल के राजेंद्र देशमुख इंटरनेशनल टी-20 मैच खेलेंगे. जिसमें भारतीय टीम का मुकाबला नेपाल के साथ 24 दिसंबर को होगा. राजेंद्र देशमुख पिछले 7 सालों से राष्ट्रीय स्तर पर क्रिकेट खेल रहे हैं. विभिन्न मैच में उनके ऑलराउंडर परफॉर्मेंस को देखकर DCCBI (दिव्यांग क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ऑफ इंडिया) ने उनका चयन अंतरराष्ट्रीय टीम में किया है. क्रिकेटर राजेंद्र देशमुख मूल रूप से बालोद (Balod) जिले के छोटे से गांव बूढ़ानपुर के रहने वाले हैं.

नासिक में हुआ चयन 

नासिक में हुए मैच में बेहतर प्रदर्शन के बाद International Cricket Team में राजेंद्र का चयन हुआ है. राजेन्द्र देशमुख 24 दिसंबर को आगरा में होने वाले भारत और नेपाल के बीच अंतरराष्ट्रीय टी20 क्रिकेट मैच में खेलेंगे. राजेंद्र देशमुख के चाचा मोरध्वज देशमुख सब इंस्पेक्टर के पद पर पदस्थ हैं और उनके सहयोग और उत्साहवर्धन से ही वे यहां तक पहुंचे हैं. साथ ही इंटरनेशनल क्रिकेट में इस मुकाम तक पहुंचने का श्रेय उन्होंने अपने कोच और प्रशिक्षक को दिया है.

The Samachaar

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button