छत्तीसगढ़राजनांदगाव

महापौर ने सेन्ट्रल लाईब्रेरी में 18 लाख 7 हजार रूपए की लागत से बने एयर कंडीशनर युक्त नए अतिरिक्त कक्ष का किया लोकार्पण

 

 

राजनांदगांव 07 अक्टूबर 2023। महापौर श्रीमती हेमा देशमुख ने आज राजनांदगांव स्थित सेन्ट्रल लाईब्रेरी में 18 लाख 7 हजार रूपए की लागत से बने एयर कंडीशनर युक्त नए अतिरिक्त कक्ष का लोकार्पण किया। महापौर श्रीमती देशमुख ने लाईबे्रेरी में अतिरिक्त कक्ष के निर्माण होने पर बच्चों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी और उन्हें पढ़ाई के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि लाईब्रेरी में सुविधाओं के बढऩे से आप अपनी शिक्षा पर अधिक ध्यान देते हुए पढ़ाई कर सकेंगे। उन्होंने युवाओं से कहा कि आप सभी ऐसे ही मेहनत करते रहें, इसका फल जरूर मिलेगा। यहां के युवा विभिन्न क्षेत्रों में चाहे शिक्षक हो या प्रोफेसर या डॉक्टर या डिप्टी कलेक्टर विभिन्न पदों पर चयनित होकर अपनी सेवाएं देंगे। इस अतिरिक्त कक्ष के निर्माण से बच्चों को पढऩे में सुविधा मिलेगी और लाईब्रेरी की क्षमता बढ़ी है। उन्होंने इस कक्ष के निर्माण के लिए कलेक्टर श्री डोमन सिंह के प्रयासों एवं योगदान के लिए धन्यवाद दिया। महापौर श्रीमती देशमुख ने युवाओं से बातचीत की और उन्हें पढ़ाई के लिए प्रोत्साहित किया। सभी युवाओं ने बताया कि वे प्रतिदिन सुबह से यहां टिफिन लेकर आते हैं और शाम तक पढ़ाई करते हैं।
इस अवसर पर एम्स नर्सिंग परीक्षा की तैयारी कर रही नारायणी साहू ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि वे प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रही हैं और यहां स्थान बढ़ जाने से ज्यादा से ज्यादा बच्चों को पढऩे की सुविधा मिल सकेगी। ओमेश्वरी वर्मा ने बताया कि वे लोक सेवा आयोग परीक्षा की तैयारी कर रही हैं और यहां अतिरिक्त कक्ष निर्माण से बहुत खुशी हुई है, यहां एसी भी लगा है। दिप्ती साहू ने बताया कि वे व्यापम द्वारा आयोजित प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रही हैं और शिक्षक बनना चाहती हैं। उन्होंने बताया कि लाईब्रेरी में पढऩे के लिए बहुत अच्छा माहौल है। इस अतिरिक्त कक्ष के बनने से सभी को सुविधा मिलेगी।
उल्लेखनीय है कि कलेक्टर श्री डोमन सिंह की पहल पर 18 लाख 7 हजार रूपए की लागत से सेन्ट्रल लाईब्रेरी में अतिरिक्त कक्ष का निर्माण किया गया है। ग्रामीण यांत्रिकी सेवा विभाग द्वारा 18 लाख 65 हजार रूपए की लागत से एक और अतिरिक्त कक्ष निर्माणाधीन है। कलेक्टर श्री सिंह ने लोक सेवा आयोग एवं अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए सेन्ट्रल लाईब्रेरी में किताबें प्रदान की है। जिनमें परीक्षा मंथन, भारतीय अर्थव्यवस्था, गणित, सामान्य अध्ययन, छत्तीसगढ़ वृहद संदर्भ, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, रेल्वे भर्ती बोर्ड परीक्षा, प्रतियोगिता दर्पण, प्रतियोगिता सारांश, आईआईटी, जेईई, भौतिक विज्ञान, सहित विभिन्न किताबें ग्रंथालय में दी गई है। जिले की सेन्ट्रल लाईब्रेरी किताबों से समृद्ध है, यहां बच्चों के कैरियर के लिए महत्वपूर्ण किताबों के अलावा साहित्यिक एवं ज्ञानवर्धक किताबें उपलब्ध है। किताबें युवाओं का सच्चा मित्र और पथ प्रदर्शक है। कलेक्टर ने युवाओं के जीवन को दिशा प्रदान करने के लिए सेन्ट्रल लाईब्रेरी को विस्तार देने की पहल की है। इस अवसर पर पार्षद एवं अध्यक्ष राजस्व विभाग नगर पालिक निगम श्री श्री विनय झा, पार्षद एवं अध्यक्ष लोक निर्माण विभाग नगर पालिक निगम श्री मधुकर बंजारे, पुनर्वास व नियोजन विभाग के अध्यक्ष श्री भागचंद साहू, कार्यपालन अभियंता ग्रामीण यांत्रिकी सेवा श्री खरे, जिला शिक्षा अधिकारी श्री राजेश सिंह एवं अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

The Samachaar

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button