छत्तीसगढ़

महादेव सट्टा किंग सौरभ चंद्राकर के शादी का वीडियो वायरल,200 करोड़ किया खर्च

रायपुर। महादेव सट्टा ऐप को लेकर इन दिनों पूरे देश में हड़कंप मचा हुआ है। ईडी की टीम अलग-अलग राज्यों में छापेमार कार्रवाई कर सट्टा ऐप से जुड़े लोगों को दबोच रही है। इसी बीच 15 सितंबर को ईडी ने खुलासा करते हुए बताया कि 417 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की गई है। इसके साथ ही ईडी ने ये भी खुलासा किया है कैसे काली कमाई के पैसों से सट्टा किंग सौरभ चंद्राकर दुबई में गुलछर्रे उड़ा रहा है। बताया जा रहा है कि सौरभ ने अपनी शादी में 200 करोड़ रुपए खर्च किए हैं, जिसमें 14 बॉलीवुड स्टार भी शामिल हुए थे। वहीं, अब सौरभ की शादी का वीडियो भी सामने आ चुका है।

जानकारी के अनुसार सौरभ चंद्राकर ने अपनी शादी में किस तरह पैसा बहाया इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि नागपुर से दुबई जाने के लिए परिवार और रिश्तेदारों के लिए उसने प्राइवेट विमान बुक कर दिए थे। यही नहीं उसकी शादी में सनी लियोन, टाइगर श्रॉफ, नेहा कक्कड़ जैसे बॉलिवुड सितारे परफॉर्म करने के लिए पहुंचे थे। ईडी के मुताबिक, सौरभ चंद्राकर और उसके साथी रवि उप्पल ने महादेव ऐप के जरिए सट्टेबाजी में हजारों करोड़ रुपए कमाए। अब तक 5 हजार करोड़ रुपए की मनी लॉन्ड्रिंग के सबूत मिल चुके हैं।

सौरभ और उप्पल छत्तीसगढ़ के भिलाई के रहने वाले हैं। बताया जाता है कि सौरभ बेहद सामान्य परिवार से है। वह अधिक पढ़ा लिखा भी नहीं है। उसका शुरुआती जीवन बेहद संघर्षों में गुजरा है। शुरुआत में वह भिलाई में ही जूस बेचने का काम करता था। दुकान का नाम था महादेव जूस सेंटर। जूस की दुकान चालते हुए वह सट्टेबाजी करने लगा था और कहते हैं कि जो भी कमाता था वह सट्टेबाजी में लगा देता था। हालांकि, उसे अधिकतर मौकों पर हार का ही सामना करना पड़ा।

‘महादेव ऑनलाइन बुक बेटिंग ऐप्लिकेशन’ अवैध सट्टेबाजी वेबसाइट के लिए ऑनलाइन प्लैटफॉर्म की व्यवस्था करने वाला एक अहम साधन है। सौरभ दुबई में बैठकर ही पूरे धंधे को ऑपरेट कर रहा था। कारोबार बहुत बड़ा हो जाने की वजह से उसने अब कई लोगों को अपने साथ जोड़ लिया था और प्रेंचाइजी के जरिए काम करने लगा था। वह 70:30 प्रॉफिट मॉडल पर काम कर रहा था। भारत में होने वाली कमाई को मनी लॉन्ड्रिंग के जरिए वह विदेशों में ठिकाने लगा देता था। ईडी ने अब तक 417 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की है। ईडी ने हाल में कोलकाता, भोपाल, मुंबई आदि शहरों में महादेव एपीपी से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग नेटवर्क के खिलाफ छापेमारी की थी।

The Samachaar

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button