कलेक्टरछत्तीसगढ़दुर्ग-भिलाई विशेष

कलेक्टर ने प्लास्टिक जार की पहली खेप को हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना

– भेड़सर गौठान के बाड़ी में लगाया जाएगा मक्का

-ढाबा और अंजोरा के रीपा केन्द्रों में लगाए जाएंगे कूलर

-कलेक्टर ने किया ढाबा, अंजोरा रीपा केन्द्रों का निरीक्षण

दुर्ग, 5 जुलाई 202- कलेक्टर पुष्पेन्द्र कुमार मीणा ने रूरल इंडस्ट्रियल पार्क का निरीक्षण किया और वहां आजीविका गतिविधियों में संलग्न महिलाओं से बातचीत की। उन्होंने सभी जगहों पर जाकर क्रियान्वयन एवं निर्माणाधीन कार्यो का बारीकी से जायजा लिया। उन्होंने वहां बन रहे ब्रेड की गुणवत्ता का परीक्षण किया। साथ ही साफ सफाई करने के निर्देश दिए।

ढाबा रीपा का निरीक्षण- कलेक्टर ने महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क (रीपा) के तहत ढाबा में संचालित गारमेंट मैन्युफैक्चरिंग का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने वहां बन रहे टी शर्ट का अवलोकन किया और वहां कार्यरत महिलाओं से बातचीत की। कलेक्टर ने महिलाओं से कार्य में आ रही परेशानियों एवं उनके कार्य के बारे में जानकारी ली। ढाबा में कार्यरत महिलाओं ने बताया कि ढाबा मंे 70 लोगों को रोजगार प्राप्त हो रहा है। टी शर्ट बनाने के लिए उन्हें एक महीने की ट्रेनिंग दी गई है। ढाबा में कपड़े की कटाई के लिए 10 लोग और सिलाई कार्य के लिए 70 लोगों को रखा गया है। ढाबा में गारमेंट मैन्युफैक्चरिंग के लिए लगे 56 मशीनों का निरीक्षण किया। कार्य की मॉनिटरिंग करने के लिए एक सुपरवाईजर नियुक्त करने को कहा। साथ ही उत्पादित टी शर्ट को अधिक से अधिक विक्रय करने को कहा।


कलेक्टर ने गारमेंट मैन्युफैक्चरिंग के लिए अधिक से अधिक रॉ मटेरियल उपलब्ध कराने की बात कही। उन्होंने एरिया के हिसाब से 6 बड़े कूलर लगाने, साफ सफाई कराने एवं समय पर वेतन दिए जाने की बात कही। कलेक्टर ने शौचालय निर्माण की धीमी गति पर बिल्डर पर नारजगी जताई और उसे शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने रीपा केन्द्र के रिक्त जगहों पर 200 छोटे एवं बड़े पौधे लगाने को कहा, ताकि रीपा केन्द्र के चारांे तरफ हरियाली हो सके। भविष्य में रीपा केन्द्र में रिव नैक टी शर्ट, पोलो टी शर्ट, स्पोर्ट्स और नॉर्मल बनियान का उत्पादन किया जाएगा।

भेड़सर गौठान का निरीक्षण- कलेक्टर ने भेड़सर गौठान का निरीक्षण किया। वहां उत्पादित होने वाले वर्मी कम्पोस्ट की विस्तार से जानकारी ली। कलेक्टर वहां कार्यरत महिला सदस्यों से चर्चा की । गौठान समिति के सदस्य ने बताया कि गौठान में 20 टंकी है, जिसमें से 80 क्विंटल वर्मी कम्पोस्ट उत्पादित किया जाता है। कलेक्टर ने अधिक से अधिक वर्मी कम्पोस्ट उत्पादित करने के लिए वहां उपस्थित सरपंच को कहा कि कोई भी एक जगह चिन्हित कर ले और सभी 20 वार्ड के लोग उस जगह पर गोबर लाकर डाले, जिससे 15 दिन गोबर बाहर रखने पर उसका मिथेन निकल जाएगा और फिर उसे वर्मी कम्पोस्ट बनाया जा सकता है।


कलेक्टर ने भेड़सर गौठान को सुंदर बनाने के लिए वर्मी कम्पोस्ट के साथ-साथ बाड़ी में फसल तैयार करने को कहा। उन्होंने मक्का, दलहन, तिलहन एवं फलदार वृक्ष लगाने की बात कही। कलेक्टर ने मक्का के कार्य को शीघ्र चालू करने के निर्देश दिए। साथ ही कलेक्टर ने गनियारी में बाड़ी का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जय गौरी महिला समूह के सदस्यों ने बताया कि 2 एकड़ में नेपियर घास लगाया गया है और 3 एकड़ में हल्दी एवं जिमीकंादा लगाया गया है।

कलेक्टर ने अंजोरा में प्लास्टिक जार की पहली खेप को हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना- कलेक्टर ने अंजोरा में निर्मित प्लास्टिक बाटल, प्लास्टिक जार एवं बेकरी का निरीक्षण किया, जिसमें ब्रेड व पाव तैयार किया जा रहा है। निरीक्षण के दौरान प्लास्टिक जार के वाहन को हरी झण्डी दिखाकर भिलाई के लिए रवाना किया। इस उद्योग मेें प्रतिदिन 6 हजार प्लास्टिक जार तैयार किया जाता है। 17 रूपए प्रति नग के हिसाब से बाजार में बेचा जा रहा है। निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने मच्छरों एवं मक्खियों से बचाने के लिए खिड़कियों में नेट लगाने को कहा। इस दौरान सीईओ जिला पंचायत श्री अश्वनी देवांगन के साथ रीपा से संबंधित अधिकारी मौजूद थे।

The Samachaar

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button