छत्तीसगढ़दुर्ग-भिलाई विशेष

संभाग के 324 गांवों में जल जीवन मिशन के काम शुरू नहीं : कमिश्ननर ने नाराजगी जताई : ठेकेदार पर कार्यवाही करने दिये निर्देश

दुर्ग / संभागायुक्त महादेव कावरे ने बुधवार 21 जून को दुर्ग संभाग के अन्तर्गत आने वाले निर्माण विभागों के कार्यों की समीक्षा की। छत्तीसगढ़ स्टेट पावर डिस्टीब्युशन कंपनी लिमिटेड दुर्ग के मुख्य अभियंता जामुलकर, जल संसाधन विभाग के अधीक्षण अभियंता दिनेश भगोरिया, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अधीक्षण अभियंता संजीव बृजपुरिया, क्रेडा के अधीक्षण अभियंता भानुप्रताप उपस्थित थे।

बारिश के पूर्व मरम्मत का काम करें पूरा

विद्युत विभाग के मुख्य अभियंता को बारिश के पहले मरम्मत के सभी कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिये गये। ट्रांसफार्मर उपलब्ध होने और मुख्यमंत्री कृषि पंप योजना के तहत पंप का लक्ष्य शीघ्र पूरा करने कहा गया। जल जीवन मिशन में बिजली कनेक्शन हेतु लंबित कनेक्शन तत्काल पूर्ण करने और रीपा के अंतर्गत विद्युतिकरण हेतु लंबित कार्य को पूर्ण करने के निर्देश दिए गए। संभागायुक्त ने विभाग के अंतर्गत व्हाट्स ऐप ग्रूप के माध्यम से आ रही समस्या को भी जल्द निराकरण करने के स्पष्ट निर्देश दिये।

कार्यों की गुणवत्ता का रखें पूरा ध्यान

जल संसाधन विभाग की समीक्षा के दौरान अधीक्षण अभिंयता द्वारा बताया गया कि विभाग में संचालित 159 अनुबंधों (राशि रुपये 677 करोड़ 41 लाख रुपए) में आज तक 348 करोड़ का व्यय किया गया है। इसमें 70 कार्य 30 जून तक पूर्ण करने और शेष कार्य वित्तीय वर्ष के अंत तक पूर्ण करना बताया गया। संभागायुक्त ने कार्याे की गुणवत्ता सुनिश्चित करने और बांधो की सुरक्षा के निर्देश दिए।

लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग अंतर्गत संचालित कार्याे की समीक्षा के दौरान अधीक्षण अभियंता द्वारा बताया गया कि जल जीवन मिशन के तहत संभाग में 4315 गांव में जल आपूर्ति हेतु निविदा पूर्ण की जा चुकी है। 4014 ग्राम हेतु कार्य आदेश जारी किये जा चुके हैं। 324 ग्राम में कार्य अप्रारंभ होने पर संभागायुक्त ने कड़ी नाराजगी जताई। उन्होंने तत्काल कार्य प्रारंभ करने के निर्देश दिए। ठेकेदार के अनुबंध निरस्त करने के निर्देश भी दिए गए।

क्रेडा विभाग अंतर्गत अधीक्षण अभियंता द्वारा बताया गया कि सौर सुजला योजना के तहत 1147 निर्धारित लक्ष्य के विरूद्ध 1011 पंप स्थापित किया जा चुका है। शेष कार्य शीघ्र पूर्ण कर लिया जाएगा। जल जीवन मिशन अंतर्गत फेस-1 में 536 कार्य के विरूद्ध 512 कार्य पूर्ण और फेस-2 में 783 के विरूद्ध 265 कार्य में फाउंडेशन स्तर पर होने और शेष कार्य प्रगतिरत होने की जानकारी दी गई। संभागायुक्त द्वारा अपूर्ण कार्य को शीघ्र पूर्ण किये जाने के स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं।

The Samachaar

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button